WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

“फोन से दूर रही इसलिए किया टॉप ” राजस्थान बोर्ड 12वीं की छात्रा

राजस्थान बोर्ड ने 12वीं का रिजल्ट सोमवार 20 मई 2024 को जारी कर दिया था। राजस्थान बोर्ड में इस साल भी लड़कियों ने बाजी मारी है। लड़कों के मुकाबले लड़कियों ने ज्यादा अंक हासिल किए।

राजस्थान बोर्ड 12वीं की छात्रा ने बताया

जयपुर की 12वी क्लास की एक छात्रा ने बताया कि वह पढ़ाई के लिए फोन का इस्तेमाल बिल्कुल भी नहीं करते थी। ना तो यूट्यूब या किसी ने वेबसाइट पर एजुकेशनल वीडियो देखी थी, ना किसी ऑनलाइन कोचिंग प्लेटफार्म पर उन्होंने कोचिंग की। उन्होंने बस एनसीईआरटी, राजस्थान बोर्ड की किताबें, तथा टीचरों के नोट्स से ही पढ़ाई की। उसने ऑफलाइन रहकर स्टडी से दम पर ही 12वीं कक्षा में किया मुकाम हासिल किया है।

आज इंटरनेट का दौर ज्यादातर जानकारी लोगों को इंटरनेट से ही प्राप्त होती है इसलिए छात्र भी आजकल इंटरनेट पर ही पढ़ाई की सामग्री खोजते हैं आजकल यूट्यूब पर पढ़ाई के लिए बहुत सारा कंटेंट उपलब्ध है और वहीं से पढ़ते हैं। ऑनलाइन कोचिंग क्लासेज के दौर में यह गजब की बात है कि सिर्फ किताबों और नोटिस को पढ़कर भी टॉप किया जा सकता है।

आज अपनी पोस्ट में बता रहे हैं कि छात्र जीवन में फोन के क्याक्या फायदे और क्या-क्या नुकसान है इस पोस्ट के माध्यम से आपको समझ होगी कि फोन का इस्तेमाल किस तरह करना चाहिए।

छात्र जीवन में फोन का उपयोग करने के नुकसान

फोन का ज्यादा इस्तेमाल छात्रों पर कई तरह से बुरा असर डाल सकता है। इससे उनका ध्यान बंट सकता है और पढ़ाई में मन लगाने की क्षमता कम हो सकती है, जिससे उनकी पढ़ाई पर असर पड़ सकता है।

ज्यादातर समय फोन पर बिताने से हम परिवार ही अपने मित्रों को अधिक समय नहीं दे पाते इसलिए मानसिक रूप से कमजोर हो जाते हैं। फोन की स्क्रीन से निकलने वाली नीली रोशनी से नींद भी खराब हो सकती है, जिससे उनकी सेहत पर भी असर पड़ता है।

इसके अलावा, फोन पर ज्यादा समय बिताने से वे कम एक्टिव हो जाते हैं, जिससे मोटापे जैसी समस्याएँ हो सकती हैं। फोन पर सोशल मीडिया का ज्यादा इस्तेमाल मानसिक स्वास्थ्य पर भी बुरा असर डाल सकता है, जिससे तनाव और अवसाद जैसी समस्याएँ हो सकती हैं। इसलिए, छात्रों के लिए जरूरी है कि वे फोन का इस्तेमाल सही तरीके से करें और बाकी एक्टिविटीज़ पर भी ध्यान दें।

ऐसा नहीं है कि फोन का इस्तेमाल करके ही आप आगे बढ़ पाओगे या अपने क्लास में टॉप कर पाओगे, फोन के लिमिटेड इस्तेमाल करके आप अपनी बुक्स टीचर्स के नोट्स को पढ़कर भी आगे बढ़ सकते हैं और अच्छे अंक प्राप्त कर सकते हैं।

छात्र जीवन में फोन के इस्तेमाल करने के फायदे

हालाँकि, फोन का सही इस्तेमाल फायदेमंद भी हो सकता है। इससे छात्रों को बहुत सारी जानकारी मिल सकती है, जिससे वे रिसर्च कर सकते हैं और पढ़ाई में मदद मिल सकती है। एजुकेशनल ऐप्स से सीखने में भी मदद मिलती है।

फोन कॉल और मैसेज से वे प्रोजेक्ट्स पर काम कर सकते हैं और दोस्तों से मदद ले सकते हैं। मोबाइल ऐप्स से टाइम मैनेजमेंट और टास्क ऑर्गनाइज करने में भी मदद मिलती है। इसलिए, छात्रों को फोन का जिम्मेदारी से इस्तेमाल करना चाहिए ताकि उनकी पढ़ाई और सेहत दोनों पर बुरा असर न पड़े।

निष्कर्ष:

छात्र के माता-पिता ने बताया कि सफलता पाने के लिए लगातार प्रयास करना बहुत जरूरी है। अगर हम किसी लक्ष्य को हासिल करना चाहते हैं तो हमें लगातार मेहनत करनी होगी और कभी हार नहीं माननी चाहिए। सफलता रातोंरात नहीं मिलती इसके लिए धैर्य, समर्पण और मेहनत की जरूरत होती है।

जब हम अपने सपनों को पूरा करने के लिए निरंतर प्रयास करते हैं तो हम हर दिन कुछ नया सीखते हैं और बेहतर होते जाते हैं। असफलताएँ और चुनौतियाँ भी इस यात्रा का हिस्सा होती हैं, लेकिन उनसे हमें सीख लेकर और मजबूत बनकर आगे बढ़ना चाहिए।

लगातार प्रयास करने से हम अपने लक्ष्य के करीब पहुँचते हैं और आखिरकार सफलता प्राप्त करते हैं। इसलिए, हमें हमेशा अपने सपनों को साकार करने के लिए मेहनत करते रहना चाहिए और कभी हार नहीं माननी चाहिए।

यह वेबसाइट केवल सूचना के उद्देश्यों के लिए सामग्री प्रदान करती है। यहां दी गई जानकारी विभिन्न स्रोतों से इकट्ठी की जाती है और उसकी सटीकता, पूर्णता, और समयबद्धता की गारंटी नहीं दी जा सकती।

site

Telegram Group Join Now

1 thought on ““फोन से दूर रही इसलिए किया टॉप ” राजस्थान बोर्ड 12वीं की छात्रा”

Leave a Comment